Posts

Showing posts from January, 2018

कहते हैं मोह छूटा पर वास्तव में नहीं छूटा

Image
जीते तो मैं ही बनूंगा मुख्यमंत्री - जोगी-दिवाकर मुक्तिबोध
छत्तीसगढ़ राज्य विधानसभा के लिए इसी वर्ष नवंबर में होने वाले चुनाव के संदर्भ में आमतौर पर लोगों की दिलचस्पी यह जानने में नहीं है कि चुनाव भाजपा जीतेगी या कांग्रेस। उनकी दिलचस्पी के केंद्र में है अजीत जोगी व उनकी पार्टी छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस। जोगी प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हैं तथा अपनी राजनीतिक विद्वत्ता व कूटनीतिक चालों के लिए देश-प्रदेश में बेहतर जाने जाते हैं। वे अनुभवी, कद्दावर व अच्छी सूझबूझ वाले ऐसे नेता हैं जिनकी जीवटता बेमिसाल है और जो कभी हार नहीं मानते। कांग्रेस में रहते हुए उन्होंने बहुतेरे आंतरिक संकटों का सामना किया तथा उससे उबर पाने में सफल रहे। अब वे कांग्रेस से अलग है तथा अपनी अलग राजनीति कर रहे हैं। वे छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के संयोजक व नेतृत्वकर्ता है। ऐसे बहुआयामी व्यक्तित्व वाले नेता के संबंध में यह दिलचस्पी स्वाभाविक है कि वे आगामी चुनाव में क्या गुल खिलाएंगे? किस पार्टी को कितना डेमैज करेंगे? किसकी संभावना को खारिज करेंगे और स्वयं कितनी ताकत बटोरेंगे? करीब डेढ़ वर्ष पूर्व अस्तित्व में आई उनकी पार्टी अपन…

त्रिकोणीय संघर्ष हुआ तो बनेगी बात

Image
क्या चौथी बार भी रमन?-दिवाकर मुक्तिबोध        गुजरात लगातार 6वीं बार फतह के बाद भाजपा का राष्ट्रीय नेतृत्व भले ही संतोष का अनुभव करें लेकिन यह बात स्पष्ट है कि अगले वर्ष छत्तीसगढ़ सहित 4 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी की राज्य इकाइयों पर दबाव कुछ और बढ़ गया है। यदि पार्टी गुजरात चुनाव हार जाती तो मुंह छिपाने के लिए क्षेत्रीय प्रक्षपों को जगह मिल जाती। पर गुजरात में 22 साल की परिपक्व सत्ता विरोधी लहर का बखूबी सामना करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पार्टी ने चुनाव जीत लिया तथा कांग्रेस मुक्त भारत के अपने अभियान की ओर एक कदम और आगे बढ़ाया। अब आगे की जिम्मेदारी उन राज्यों पर हैं जहां अगले वर्ष चुनाव होने है। इनमें प्रमुख हैं छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान व कर्नाटक। तीन राज्यों छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश व राजस्थान में भाजपा की सरकारें है जिसमें छत्तीसगढ़ व मध्यप्रदेश में क्रमश: डा. रमन सिंह व शिवराज सिंह चौहान अपना लगातार तीसरा कार्यकाल पूरा करने जा रहे हैं। लोकसभा के चुनाव वर्ष 2019 में होने हैं और इस बात की जमकर चर्चा है कि पूरे देश में लोकसभा चुनाव के साथ…